ALL News राजनीति Education Public
शराब की बिक्री पर पूरी तरह से पाबंदी लगाना ही उचित:मोहम्मद शाहआलम
May 6, 2020 • Dr. Arshad Samrat

मुजफ्फरनगर

 

भाकियू अम्बावता जिलाध्यक्ष मोहम्मद शाहआलम ने शराब के ठेके खुलने का जताया विरोध ओर साथ ही कहा कि सारी मेहनत पर फिर जाएगा पानी


जब से कोरोना वाइरस ने भारतवर्ष में दस्तक दी है तभी से देश मे 3 हिस्सो में अलग अलग तरीखे लोकड़ाऊंन किया है।इस लोकड़ाऊंन के चलते बहुत से गरीब परिवारों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा,जिसे शाशन के निर्देश पर गरीब परिवारों को खाद्य सामग्री उपलब्ध कराई गई।इस 3 चरणों के लोकड़ाऊंन के अंतर्गत जिला मुजफ्फरनगर के प्रशाशन के द्वारा लोकड़ाऊंन का जनता से पूर्ण तरीखे से पालन करवाया गया,हालांकि इस लोकड़ाऊंन का विरोध कर रहे लोगो पर पुलिस ने तो कही कहि लाठीचार्ज भी किया और साथ ही न जाने कितने लोगों पर लोकड़ाऊंन के उल्लंघन में मुकदमे भी पंजिकर्त किये गए।वही अब शाशन के निर्देश पर जिला मुजफ्फरनगर में सरकारी शराब के ठेके खुलने से कही न कही जिला प्रशाशन की मेहनत पर पानी फिरता दिखाई दे रहा है,शराब पीने के आदि व्यक्ति अपने घरों से बाहर निकलकर शराब लेने के लिए सरकारी शराब के ठेकों पर लंबी लंबी लाइनों में लगकर शराब खरीद रहे है,ओर शराब को पीने के पश्चात उसका रिजल्ट भी साफ साफ दिखाई दे रहा है कि किस तरह शराब पीकर शराबी उत्पात मचा रहे है,नालियों व सड़को पर शराब पीकर बेसुध होकर पड़े है,न किसी के पास मास्क है और न ही शोशल डिस्टेन्स का पालन किया जा रहा है,शराब पीकर गाड़ी चलाकर दुसरो के घरों में तोड़फोड़ कर रहे है।वही इस संबंध में भाकियू अम्बावता जिलाध्यक्ष मोहमद शाहआलम का कहना है कि इस तरह लोकड़ाऊंन में शराब की दुकान खोलने हमारी व जिला प्रशाशन की मेहनत पर पानी फेरता नजर आ रहा है,तो इसलिए हम शाशन से मांग करते है कि जब तक लोकड़ाऊंन है तब तक शराब की बिक्री पर पूरी तरह से पाबंदी लगाई जाए।