ALL News राजनीति Education Public
मुरादाबाद पथराव की घटना शर्मनाक व निंदनीय : जावेद साबरी
April 18, 2020 • Dr. Arshad Samrat

रूडकी

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व एआईसीसी मेम्बर जावेद साबरी ने कहा कि मुरादाबाद में स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों पर किए गए पथराव की घटना शर्मनाक व निंदनीय है।इस तरह की घटनाएं इंसानियत के नाम पर कलंक हैं।ऐसी घटनाओं को अंजाम देने वाले लोगों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जानी चाहिए तथा मुस्लिम समुदाय के जिम्मेदार लोगों को भी आगे आकर इस तरह की घटनाओं पर अंकुश लगाकर मुस्लिम कौम को बदनाम होने से बचाना चाहिए।एआईसीसी मेम्बर जावेद साबरी ने यहां जारी एक बयान में कहा कि पूरी दुनिया के साथ-साथ भारत में भी कोरोना जैसी लाइलाज बीमारी फैली हुई है।स्वास्थ्य व पुलिस विभाग के कर्मचारी अपनी जान को जोखिम में डालकर लोगों की जान बचाने व सुरक्षा प्रदान करने में लगे हुए हैं।ऐसी स्थिति के स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों का सहयोग करने की बजाए चंद गलत मानसिकता के लोग उनके ऊपर पथराव कर पूरी कौम को बदनाम करने का काम कर रहे हैं।
उन्होंने कहा कि जब चिकित्सकों पर जानलेवा हमले किए जाएंगे तो ऐसी स्थिति में इस बीमारी से लोगों की जान बचाने के लिए कौन इलाज करेगा। उन्होंने कहा कि मुस्लिम समाज के जिम्मेदार लोगों को आगे आकर इस तरह की घटनाओं को रोकने का काम करना चाहिए।जावेदा साबरी ने कहा कि यदि निजामुद्दीन मरकज के मौलाना साद को अपनी जिम्मेदारी का एहसास होता तो वे स्वयं सामने आकर तबलीग जमात के लोगों को अपने स्वास्थ्य की जांच कराने के निर्देश देते।उन्होंने कहा कि मुस्लिम समुदाय के उलेमाओं को भी इस तरह के कृत्य की निंदा करनी चाहिए और आगे आकर मुस्लिम कौम को बदनाम होने से बचाने के साथ-साथ हिंदुस्तान की जनता का सहयोग करना चाहिए।उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान जिस तरह सामाजिक संगठन, स्वयंसेवी संस्थाओं व प्रशासन द्वारा गरीब व बेसहारा लोगों की मदद की जा रही है,वह सराहनीय है।समाज के जिम्मेदार लोगों को भी आगे आकर अपनी सामर्थ्य के अनुरूप जरूरतमंद लोगों की मदद करनी चाहिए।