ALL News राजनीति Education Public
मुजफ्फरनगर में एक और कोरोना पॉजिटिव मिला।
April 26, 2020 • Dr. Arshad Samrat

 

मुजफ्फरनगर -

जिले में आज एक और कोरोना संक्रमित मिला है,पिछले दिनों मिले कोरोना संक्रमितों में सिसौली की महिला समेत दूसरे राज्य के तीन अन्य जमाती ठीक हो गए है इसलिए अब जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या 19 रह गयी है |

अपर जिलाधिकारी प्रशासन अमित सिंह ने बताया कि आज खतौली में एक और कोरोना संक्रमित की रिपोर्ट आई है ,ये उसी परिवार से है जिसके पहले भी परिजन बेगराजपुर हॉस्पिटल में भर्ती है जबकि सिसौली की एक महिला नॉएडा से ठीक होकर अपने गाँव आ चुकी है और तीन दूसरे राज्यों से यहाँ आये हुए भी ठीक हो चुके है इसलिए अब जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या 19 हो चुकी है |

खतौली में कोरोना संक्रमितों की संख्या रोज बढती जा रही है,जिसके कारण खतौली पहले से ही हॉट स्पॉट बना हुआ है और सील है,वहां बैंक आदि सभी सुविधाएँ भी बंद है |कल भी कोरोना संक्रमण की चपेट में आकर मौत की आगोश में पहुँचे युवक के परिवार की एक रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने से जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग में हड़कम्प मच गया था । कोरोना संक्रमितों की संख्या में आये दिन हो रहे इजाफे से नागरिकों में भय का माहौल है। कस्बे के कोरोना हॉटस्पॉट में तब्दील होने से पुलिस प्रशासनिक अधिकारियों ने नागरिकों से लॉकडाउन का पालन कराने के लिये और सख्ती बरतनी शुरू कर दी है। पहले ही कोरोना हॉट स्पॉट बन चुके कस्बे के मोहल्ला इस्लामनगर की चारों तरफ से नाकेबन्दी कर शनिवार को आरआरएफ के जवानों की तैनाती कर दी गयी है ।

दरअसल शाहीन बाग दिल्ली में आरओ वाटर सप्लाई का काम करने वाला कोरोना संक्रमित युवक सलीम पुत्र मुस्तकीम, लॉकडाउन को धता बताकर बीती 11 अप्रैल को अपने घर कस्बे के मोहल्ला इस्लामनगर पहुंच गया था। 13 अप्रैल को होम क्वारंटाइन कराये गये सलीम की 14 अप्रैल को मौत होने के बावजूद कुम्भकर्णी नींद में सोये स्वास्थ्य विभाग ने मृतक की मौत के कारणों की जाँच कराये बगैर शव दफनाने की अनुमति परिजनों को दे दी थी। समाचार पत्रों में सलीम की मौत को लेकर लापरवाही उजागर होने के बाद हरकत में आये स्वास्थ्य विभाग ने 15 अप्रैल को मृतक के 2 साल के पुत्र, 4 साल की पुत्री, 45 साल की माँ और 11 साल की बहन के सैम्पल लेकर जाँच को भेजे थे। इस दिन भी स्वास्थ्य विभाग ने लापरवाही से काम लेकर मृतक सलीम की इद्दत में बैठी पत्नी व भाई का सैम्पल नहीं लिया था।

21 अप्रैल को मृतक के परिवार की 3 रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने पर स्वास्थ्य विभाग ने तीनों को मुजफ्फरनगर मेडिकल बेगराजपुर के आइसुलेशन वार्ड में शिफ्ट कर दिया था। इस दिन मृतक सलीम के परिवार की रिपोर्ट आने से रह गयी थी। शनिवार को वो रिपोर्ट भी कोरोना पॉजिटिव आने से जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग में हड़कम्प मच गया। आला अधिकारियों के आदेश पर आनन-फानन में कस्बे के मोहल्ला इस्लामनगर पहुँची स्वास्थ्य विभाग की टीम ने कोरोना संक्रमित को मुजफ्फरनगर मेडिकल बेगराजपुर के आइसुलेशन वार्ड में शिफ्ट कर दिया। स्वास्थ्य विभाग ने 21 अप्रैल को कोरोना संक्रमित मृतक सलीम की पत्नी व भाई सहित जनाजे में शामिल होने वाले 28 लोगों के सैम्पल लेकर जाँच को भेजे थे। इन सभी रिपोर्ट के आने का कस्बेवासियों को इन्तजार है,इन्ही में से आज एक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है |

सीओ आशीष प्रताप व कोतवाल सन्तोष कुमार त्यागी ने कोतवाली के स्टाफ व आरएएफ के जवानों के साथ कस्बे में पैदल गश्त कर नागरिकों से लॉकडाउन का पालन करने का आव्हान किया। सीओ व कोतवाल ने लॉकडाउन का उल्लंघन करके अनावश्यक रूप से घरों से बाहर निकलने वालों को सख्त कार्यवाही किये जाने की चेतावनी दी।कोरोना संक्रमितों की संख्या में इजाफा होने के चलते हॉटस्पॉट में तब्दील मोहल्ला इस्लामनगर को चारों तरफ से सील कर आरएएफ के जवानों की तैनाती कर दी गयी है।