ALL News राजनीति Education Public
इस बार देर से आएंगे 10वीं और 12वीं के रिजल्ट
March 18, 2020 • Dr. Arshad Samrat

कोरोना वायरस के संक्रमण के मद्देनजर यूपी बोर्ड 2020 की हाई स्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षाओं का मूल्यांकन 2 अप्रैल तक स्थगित कर दिया गया है। यह जानकारी माध्यमिक शिक्षा विभाग की प्रमुख सचिव आराधना शुक्ला ने दी है। मूल्यांकन सोमवार से शुरू हुआ था और दस दिन में खत्म होना था लेकिन अब कोरोना वायरस के कारण इसे टाला गया है।

मूल्यांकन स्थगित हो जाने के बाद अब इस साल 10वीं और 12वीं के रिजल्ट अप्रैल में आना संभव नहीं होगा। शिक्षा विभाग की प्रमुख सचिव आराधना शुक्ला ने बताया कि मूल्यांकन पर कोई भी निर्णय 2 अप्रैल के बाद लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस वर्ष 56.7 लाख परीक्षार्थी पंजीकृत थे जिनमें से लगभग पौने पांच लाख परीक्षार्थियों ने परीक्षा छोड़ दी थी। लगभग तीन करोड़ कॉपियों का मूल्यांकन किया जाना है। शिक्षक संघ लगातार मूल्यांकन को स्थगित करने की मांग कर रहे थे।

दरअसल उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने पिछले महीने कहा था कि इस बार हाईस्कूल की परीक्षाएं 12 और इंटरमीडिएट की परीक्षा 15 दिनों में खत्म हो जाएगी और रिजल्ट 24 अप्रैल तक घोषित होगा। आपको बता दें कि हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं इस बार 18 फरवरी से शुरू हुई थीं और छह मार्च को खत्म। हाईस्कूल की महत्वपूर्ण विषयों की परीक्षाएं 29 फरवरी को ही समाप्त हो गई थीं। अंतिम दिन पहली पाली में इंटरमीडिएट शस्य विज्ञान (व्यावसायिक), मानव विज्ञान का पेपर हुआ था तो दूसरी पाली में फल एवं खाद्य संरक्षण, पाक शास्त्र सहित अन्य व्यावसायिक पाठ्यक्रमों की परीक्षाएं हुई।

4.68 लाख ने छोड़ी परीक्षा
यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षा छोड़ने वाले परीक्षार्थियों की संख्या 468804 थी। इसबार 400 परीक्षार्थियों को नकल करते हुए पकड़ा गया जबकि अलग-अलग मामलों में प्रदेश में 223 एफआईआर दर्ज कराई गई।