ALL News राजनीति Education Public
बेटी के दुलार से ज्यादा परिवार कस्बे व मौहल्ले की मौहब्बत ।
April 2, 2020 • Dr. Arshad Samrat

अवगत किया जाता है कि जिला मुजफ्फरनगर के कस्बा चरथावल  निवासी डा० शहजाद त्यागी (पत्रकार ) व एस पी ओ थाना चरथावल की बडी  बेटी शाहेनूर प्रवीन मुजफ्फरनगर (बेगराजपुर ) मैडिकल कोलिज मे जी एन एम की द्वितीय वर्ष की छात्रा होने के साथ साथ अस्पताल के वार्ड मे बतौर नर्स के रुप मे रह कर अस्पताल मे आने वाले सभी मरीजो की सेवा कर रही है ।
अतः अब पूरी दुनिया के साथ भारत देश मे भी बडी महामारी का रुप धारण करने वाली कोरोना वायरस की बीमारी के चलते अस्पताल मे अगर इस बीमारी से पीडित कोई मरीज आता है तो डाक्टरों के साथ रह कर अपनी जान की परवाह किये बिना चरथावल की इस बेटी ने उस मरीज की सेवा करने हेतू कोलिज मे अपना नाम लिखवा दिया है ।
डाक्टरों की टीम ने इस बेखोफ बेटी की बहादुरी से खुश होकर इसे मात्र तीन दिन की छुट्टी देकर घर भेजी है ।इन छुट्टियों की सूचना जब इसने अपने पिता डा० शहजाद को दी तो उन्होने कोरोना वायरस को मद्देनजर रखते हुये ।उसके आने से पहले नीम के पत्तो का पानी डिटोल लोशन तैयार कर  लिया अतः जब यह लड़की अपने घर की चौखट पे कदम रखने ही वाली तो उसके पिता ने उसे बाहर ही रोक कर पहले सेनेटाईजर से हाथ धुलवाये फिर उसकी मम्मी ने नीम व डिटोल मिश्रित पानी मे स्नान की आज्ञा देते हुये उसके कपड़े कास्टिक सोडे के पानी मे धुलवाकर तब अन्दर बैठाकर खाना खिलाया ।तो ये होता है महामारी के चलते    हुये बेटी को पुचकारने से पहले कस्बा परिवार व मौहल्ले की मौहब्बत का ख्याल रखना ।
        डा० शहजाद त्यागी (पत्ररकार )

      सम्राट न्यूज़  व एस पी ओ थाना चरथावल मुजफ्फरनगर