ALL News राजनीति Education Public
ऐंकर अरनब गोस्वामी के भाषण का प्रसारण कानून व्यवस्था को बिगाड़ने वाला और राजद्रोह है: जुनैद रऊफ
April 23, 2020 • Dr. Arshad Samrat

मुज़फ्फरनगर

कांग्रेस नगर अध्यक्ष जुनैद रऊफ ने पालघर (महाराष्ट्र) में हुई सन्तों की हत्या के पश्चात प्रमुख चैनल रिपब्लिक भारत के ऐंकर अरनव गोस्वामी द्वारा साम्प्रदायिक विद्वेष से दिये गये कथन के सम्बन्ध में प्राथमिकी दर्ज कराये जाने के सम्बन्ध में नगर कोतवाली मुुज़फ्फरनगर मेंं तहरीर दिनांक 21-04-2020 को टी.वी. चैनल न्यूज बुलेटिन में कार्यक्रम के दौरान उसके ऐंकर अरनब गोस्वामी के भाषण का प्रसारण हुआ है, जिसमें अरनब गोस्वामी ने पालघर (महाराष्ट्र) में हुई दो सन्तों की हत्या के सम्बन्ध में जो कथन प्रसारित किया है वह साम्प्रदायिक भावना को भड़काने वाला भाषण होने के साथ-साथ भारत की कानून व्यवस्था के प्रति विद्वेष फैलाने वाला भाषण भी है। उपरोक्त कथन में श्री अरनब गोस्वामी ने कहा है कि यदि हिन्दू सन्तों के बजाय किसी मौलवी व पादरी की हत्या हई होती तो क्या शांति रहती। 80 प्रतिशत सनातन हिन्दू के सन्तों की हत्या पर मीडिया व श्रीमती सोनिया गांधी चुप हैं और कांग्रेस चुप है। और भी कई आपत्तिजनक भाषण अरनब गोस्वामी द्वारा दिया गया है।
उपरोक्त कार्यक्रम पूरी तरह से हिन्दू जनमानस को साम्प्रदायिक करने के उद्देश्य से दिया गया है। इसका परिणाम देश में कोरोना की महामारी की वजह से लगाये गये लॉकडाउन में प्रचलित कानून व्यवस्था को बिगाड़ने वाला है और राजद्रोह है। ऐसे ऐंकर का भाषण भारतीय दण्ड विधान में सजायोग्य है और साम्प्रदायिक सौहार्द के खिलाफ है।
अतः निवेदन है कि अरनब गोस्वामी का टी.वी. न्यूज चैनल रिपब्लिक भारत में प्रसारित कार्यक्रम को देखते हुए चैनल के प्रमुख एवं अरनब गोस्वामी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर कानूनी कार्यवाही की जाये।