ALL News राजनीति Education Public
अब नहीं रहेगा कोई भी बच्चा स्कूल से बाहर
March 5, 2020 • Dr. Arshad Samrat


मुजफ्फरनगर
शारदा कार्यक्रम (स्कूल हर दिन आये ) के अंतर्गत 5 से 14 आयुवर्ग के समस्त आउट -ऑफ- स्कूल बच्चो के चिन्हांकन के लिए डायट सभागार कक्ष में एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला की शुरुआत सर्व शिक्षा अभियान के जिला समन्वयक सुशील कुमार और डायट प्राचार्य भीम सिंह ने की।   जिसमें उन्होंने शारदा स्कूल हर दिन आए के बारे में जानकारी दी। 
एक्शनएड इंडिया लखनऊ से आए यूनिसेफ के शिक्षा विशेषज्ञ क्रांति कुमार निगम द्वारा शारदा के समस्त बिंदुओं पर प्रशिक्षण दिया गया उन्होंने कहा ऑफ- स्कूल बच्चे की श्रेणी,परिभाषा पर चर्चा की कि कैसे हम उनका चिंन्हाकरण, पंचीकरण, नामांकन  एवम मूल्यांकन करना है।
शिक्षा से वंचित बच्चों की पहचान और उनके अधिक से अधिक नामांकन करने की व्यवस्था के लिए प्रदेश सरकार ने शारदा (स्कूल हर दिन आएं) कार्यक्रम शुरू किया है। योजना के तहत उन बच्चों की तलाश की जाएगी, जिनका अब तक किसी स्कूल में नामांकन नहीं है या किसी कारणवश बीच में ही पढ़ाई छोड़ दी है। ऐसे बच्चों को शिक्षा की मुख्यधारा से जोड़ा जाएगा।
एक्शन ऐड़ एवं यूनिसेफ के नई पहल कार्यक्रम के जिला समन्वयक क़मर इंतेखाब ने कहा कि हमारे प्रेरक हर ब्लॉक में बच्चों का चिन्हाकन करने में मदद करेंगे।इसमें सामाजिक संगठनों के लोगो की मदद ली जाएगी। ज़िला बेसिक शिक्षा अधिकारी रामसागर पति त्रिपाठी ने कहा कि दो चरणों में चलने वाले इस कार्यक्रम के तहत प्रथम चरण 1 फरवरी  से 15 अप्रैल तक, चुने हुए बच्चों का 20 अप्रैल तक प्रवेश करे जबकि द्वितीय चरण के बच्चों को 21 मई से  15 जुलाई तक चिन्हित करके 20 जुलाई तक प्रवेश कराया जाएगा। शैक्षणिक सत्र 2020-21 में 15 फीसदी बच्चों का विद्यालयों में प्रवेश कराने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।  
ज़िला समन्वयक SSA ने बताया कि शारदा योजना के तहत सर्वे में चिंहित आउट ऑफ स्कूल बच्चों की पहचान  कर 2019-20 के सापेक्ष 15 फीसदी अधिक नामांकन करने वाले टीचर्स को पुरस्कृत किया जाएगा। ताकि अब नगरीय तथा ग्रामीण क्षेत्र में कोई बच्चा आउट ऑफ स्कूल न रहे।विशेषकर मौसमी पलायन से प्रभावित बच्चो को शिक्षा की मुख्य धारा में शामिल करने पर बल दिया गया।
अंत में सर्व शिक्षा अभियान के जिला समन्वयक ने कार्यशाला में आए जिले के समस्त खंड शिक्षा अधिकारियों, समस्त ब्लॉकों से आए नोडल शिक्षक,शिक्षिकाएं  ARP, प्रशिक्षक ,डायट के अध्यापक, यूनिसेफ एवं एक्शनएड की नई पहल शिक्षा परियोजना से इंद्रा सेन गुप्ता, नई  सहायक जिला समन्वयक शोएब चौधरी एवं जिले की विभिन्न संस्थाओं ने प्रतिभाग किया।